25.4 C
Dehradun
Tuesday, October 4, 2022

Ukssc: 40 छात्रों को पेपर देकर कराई थी नकल, कुमाऊं से हुई गुरु जी कि गिरफ्तारी

Must Read

उत्तराखंड न्यूज़ एक्सप्रेस के इस समाचार को सुनें
- Advertisement -

उत्तराखंड में यूके एसएससी पेपर लीक मामले में स्पेशल टास्क फोर्स आए दिन लगातार पेपर लीक मामले में सख्ती से काम कर रही है। इसी बिच अब एक बार फिर पेपर लीक के मामले में पुलिस ने एक आरोपी की गिरफ्तारी की है इस बार एसटीएफ ने मंगलवार को कुमाऊं में लोहाघाट के राजकीय प्राथमिक विद्यालय में बेसिक शिक्षक के पद पर तैनात बलवंत सिंह रौतेला को गिरफ्तार किया है। बताया जा रहा है कि बलवंत सिंह रौतेला हल्द्वानी से गिरफ्तार हुए शशिकांत का दाहिना हाथ था, जिन्होंने सामूहिक पेपर लीक में दो रिजल्ट में 55 से 60 अभ्यर्थियों को इकट्ठा कर उनसे नकल करवाई थी।

खबरों के अनुसार इस मामले में अब तक एसटीएफ 29 लोगों को गिरफ्तार कर चुकी है। साथ ही आरोपी शिक्षक बलवंत यूपी के नकल माफिया शशिकांत का राइट हैंड बताया जा रहा है। बलवंत पहले पीसीओ चलाता था। उसके बाद इलेक्ट्रानिक सामान बेचता था। इसके बाद वह शिक्षक बना। साथ ही बताया जा रहा है कि एसटीएफ ने नकल करने वाले अधिकांश छात्रों को भी चिन्हित कर लिया है जो परीक्षा से ठीक पहले कुमाऊं के दो रिजॉर्ट्स में रुके हुए थे जिनके साथियों की पुष्टि भी हुई है। एसटीएफ के अनुसार, आरोपी बलवंत ने उत्तर प्रदेश के नकल माफिया शशिकांत के माध्यम से पेपर लीक किया था। उसने करीब 40 छात्रों को इकठ्ठा कर प्रश्नपत्र उपलब्ध कराया था।

साथ ही राजकीय प्राथमिक विद्यालय लोहाघाट में बेसिक शिक्षक के पद पर तैनात बलवंत सिंह रौतेला जो कि शशिकांत का दाहिना हाथ माना जाता है, पहले पीसीओ चलाता था उसके बाद छोटे इलेक्ट्रॉनिक्स के समान बेचता फिर वह शिक्षक बन गया। सूत्रों से मिली खबर के अनुसार आरोपी बलवंत ने उत्तर प्रदेश के नकल माफिया शशिकांत के माध्यम से पेपर लीक किया था। उसने करीब 40 छात्रों को इकठ्ठा कर प्रश्नपत्र उपलब्ध कराया था। इसी बिच अब एसटीएफ ने बलवंत को गिरफ्तार कर अब तक दो रिजॉर्ट की पोल खोल चुकी है।

- Advertisement -
देहरादून - अंकिता भंडारी की हत्या को लेकर एसआईटी केस को सुलझाने की मशक्कत में लगी हुई है. जिसमे...

Latest News

More Articles Like This