Headline
पीएम मोदी के कार्यक्रम में किच्छा के युवक को किया गया नोमिनेट
सुप्रीम कोर्ट की फटकार : हरक सिंह रावत और किशन चंद को कॉर्बेट नेश्नल पार्क मामले में नोटिस
उत्तराखंड के ग्राफिक एरा यूनिवर्सिटी में CM धामी ने किया छठवें वैश्विक आपदा प्रबंधन सम्मेलन का शुभारम्भ
उत्तराखंड में निर्माणाधीन टनल धंसने से बड़ा हादसा, सुरंग में 30 से 35 लोगों के फंसे होने की आशंका, रेस्क्यू ऑपरेशन जारी
मशहूर टूरिस्ट स्पॉट पर हादसा, अचानक टूट गया कांच का ब्रिज, 30 फीट नीचे गिरकर पर्यटक की मौत
81000 सैलरी की बिना परीक्षा मिल रही है नौकरी! 12वीं पास तुरंत करें आवेदन
देश के सबसे शिक्षित राज्य में चपरासी की नौकरी के लिए कतार में लगे इंजीनियर, दे रहे साइकिल चलाने का टेस्ट
Uttarakhand: पहली बार घर-घर किया गया विशेष सर्वे, प्रदेश से दो लाख मतदाता गायब, नोटिस जारी
Uttarakhand: धामी सरकार का एलान, राज्य स्थापना दिवस तक हर व्यक्ति को मिलेगा आयुष्मान कवच

अग्निपथ योजना के विरोध में युवाओं की हो रही ‘मुखबिरी’, व्हाट्सएप ग्रुपों पर नज़र रख खुफिया विभाग अलर्ट

अमर उजाला में प्रकाशित खभर के अनुसार देशभर में हो रहे अग्निपथ योजना के विरोध के चलते रुड़की और देहात क्षेत्र के सेना में भर्ती की तैयारी कर रहे युवाओं की मुखबिरी पर साफ नजर रखी जा रही है। गंगनहर की पटरी और देहात में संपर्क मार्गों पर दौड़ लगाने वाले युवाओं पर पुलिस और खुफिया विभाग की कड़ी नजर है। अग्निपथ योजना की घोषणा के बाद उसके विरोध को देखते हुए पुलिस और खुफिया विभाग अलर्ट है। पुलिस और खुफिया विभाग की खासकर रुड़की और मंगलौर क्षेत्र के युवाओं पर कड़ी नजर है। इन दोनों क्षेत्रों से युवा सेना बड़ी संख्या में पुलिस भर्ती की तैयारी कर रहे हैं। जिसके चलते पुलिस और खुफिया विभाग की नज़र इन पर तिकी है।

Policemen Will Take Leave On Whatsapp In Uttarakhand DGP Ashok Kumar. उत्तराखंड में पुलिसकर्मियों को मिला बड़ी टेंशन से छुटकारा, DGP के एक ऐलान ने दे दी राहत. Uttarakhand Police ...

रुड़की में सुबह शाम गंगनहर पटरी पर सैकड़ों युवा दौड़ लगाते हैं। अग्निपथ के विरोध में इनमें से कुछ युवा शामिल तो नहीं हैं, इसे लेकर खुफिया विभाग सतर्क है। वहीं मंगलौर क्षेत्र में संपर्क मार्गों पर दौड़ लगाने वाले युवाओं पर पूर्व प्रधान और चौकीदार टकटकी लगाए हुए हैं। साथ ही उत्केतराखंड के डीजीपि अशोक कुमार के मुताबिक युवाओं द्वारा बनाए गए व्हाट्सएप ग्रुपों पर भी नजर रखी जा रही है। पुलिस और खुफिया विभाग को युवाओं पर नजर रखने के निर्देश दिए गए हैं। व्हाट्सएप ग्रुपों पर भी नजर रखी जा रही है ताकि कोई विरोध करने वाली बात सामने आए तो तुरंत उसे नज़रंदाज किये बिना युवाओं को समझाया जा सके। पुलिस और खुफिया विभाग ने युवाओं की ओर से अलग-अलग नाम से बनाए गए व्हाट्सएप ग्रुपों की सूची जमा की है। इन ग्रुपों में जुड़े कुछ युवाओं से पुलिस और खुफिया विभाग अग्निपथ को लेकर मुखबिरी करा रहा है ताकि प्रदर्शन वाली बात सामने आए तो समय रहते इन युवाओं को शांत किया जा सके।

पुलिस की ओर से देहात में पूर्व प्रधानों और चौकीदारों को मुखबिरी पर लगाया गया है। अग्निपथ योजना के विरोध को देखते हुए पुलिस और खुफिया विभाग ने यह कदम उठाये है। पुलिस और खुफिया विभाग की खासकर रुड़की और मंगलौर क्षेत्र के युवाओं पर नजर तिकी है। इन दोनों क्षेत्रों से बड़ी संख्या में युवा सेना और पुलिस भर्ती की तैयारी कर रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back To Top