“जब सीएम हो साथ तो बन जाए हर बात”, कार्यक्रम के तहत सीएम धामी ने किया सीधे स्टूडेंट्स से संवाद

Must Read

उत्तराखंड न्यूज़ एक्सप्रेस के इस समाचार को सुनें

रुद्रपुर/देहरादून – सीएम पुष्कर सिंह धामी ने सोमवार को “जब सीएम हो साथ तो बन जाए हर बात” कार्यक्रम के तहत जिले के विभिन्न स्कूलों के स्टूडेंट्स से वर्चुअली संवाद किया. मुख्यमंत्री ने छात्रों में जोश भरते हुए उनसे अपने जीवन का लक्ष्य निर्धारित करने को कहा.

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी जी के साथ जिला ऊधम सिंह नगर के लगभग 1000 से अधिक छात्र छात्राओं ने वर्चुअल के माध्यम से मुख्यमंत्री जी से सीधा संवाद कर अपने मन की बात को रखते हुए अपनी शंकाओ का समाधान किया और युवा मुख्यमंत्री जी ने उनके प्रश्नों का सरल उत्तर देते हुए उनका उत्साह वर्धन किया।माननीय प्रदेश महामंत्री संगठन आदरणीय अजेय जी ने छात्र छात्राओं को राष्ट्र हित में अपना भविष्य बनाने के लिये प्रेरित किया।

प्रदेश के शिक्षा मंत्री अरविंद पांडेय ने छात्र छात्राओं के जीवन को बहुमूल्य बताते हुए कोरोना की गाइड लाइन का पालन करते हुए अपना भविष्य बनाने का आह्वान किया ।भाजपा जिलाध्यक्ष शिव अरोड़ा ने कहा कि आज के छात्र छात्राएं कल के भारत का भविष्य है।

Image

मुख्यमंत्री ने कहा कि हमारी युवाशक्ति देश की ताकत है। युवा समय का बेहतर सदुपयोग कर जीवन में सफलता के सोपान प्राप्त कर सकते हैं। बीता हुआ समय लौटकर नहीं आता है, इसलिये समय के साथ चलकर उसकी उपयोगिता को समझना जरूरी है।

कार्यक्रम का संचालन कर रहे भारतीय जनता युवा मोर्चे के प्रदेश अध्यक्ष कुंदन लटवाल ने कहा की “मुख्यमंत्री धामी हमारे लिए प्रेरणा स्रोत्र है, वो बहुत कम आयु में ही दो बार भाजयुमो के प्रदेश अध्यक्ष तथा दो बार विधायक बन चुकें है जिससे की छात्रों को अपने लक्ष्य के प्रति सीख लेनी चाहिए. युवा मुख्यमंत्री का योजनाओं में छात्र एवम शिक्षा का अहम् महत्व है जिस कारण वह आज छात्रों से संवाद करने हेतु उपस्थित”.

मुख्यमंत्री ने युवाओं को जीवन में सफलता के लिये संकल्प लेने की सीख देते हुए कहा कि जब हम संकल्प में विकल्प की सोच लाते हैं तो सफलता की राह कठिन हो जाती है। हमें किसी भी कार्य के लिये संकल्प लेकर उसे पूरा करने का लक्ष्य बनाना होगा। पूर्व राष्ट्रपति डॉ. एपीजे अब्दुल कलाम एवं प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का उदाहरण देते हुए उन्होंने कहा कि साधारण परिवार में जन्मे इन महानुभावों ने देश व दुनिया को नई दिशा देने का कार्य किया है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि युवाओं को अपने अंदर नेतृत्व क्षमता विकसित करने पर भी ध्यान देना चाहिए। छात्र स्वयं का आंकलन करे। मुख्यमंत्री ने कहा कि व्यक्ति स्वयं से झूठ नहीं बोल सकता है।

हल्द्वानी में सैनिकों के आश्रितों के लिये छात्रावास की स्थापना की जायेगी। शीघ्र ही लगभग 24 हजार पदों पर नियुक्ति प्रक्रिया शुरू की जायेगी। 30 अगस्त तक आवेदक युवाओं को स्वरोजगार उपलब्ध कराने की योजना तैयार कर जिलाधिकारियों के माध्यम से एक ही स्थान पर कार्यक्रम आयोजित कर ऋण वितरण की कार्यवाही की जायेगी।

 

Latest News

कोरोना के नए वेरिएंट को लेकर प्रदेश सरकार ने जारी की कोविड प्रतिबंधों की लिस्ट

कोरोना के नए वेरिएंट ओमिक्रॉन को लेकर सरकार की ओर से नई एसओपी जारी की गई है। सरकार ने...

More Articles Like This