राहगीरों की प्लेटों में खाना परोसती उत्तराखंड पुलिस

Must Read

उत्तराखंड न्यूज़ एक्सप्रेस के इस समाचार को सुनें

हल्द्वानी

आपदा के इस समय जहाँ अपने ही साथ छोड़कर चले जा रहे हैं. कितने ही ऐसे केस सामने आये हैं जिनमे पुत्र ने बाप की अर्थी को कन्धा नही दिया या फिर परिवारजनों ने कोरोना से निधन हुए व्यक्ति की लाश लेने से इनकार कर दिया. वहीँ हालातों को समझते हुए उत्तराखंड के हल्द्वानी पुलिस ने अपनी ज़िम्मेदारी संभालते हुए कुछ ऐसा काम किया जिससे नगर में उनकी वाहवाही हो रही है.

पुलिस द्वारा तीमारदारों मजबूर लोगों को खाना उपलब्ध कराया गया। जी हां महामारी के इस दौर में जहां हर कोई दूसरा तीसरा परेशान है तो दूसरा पक्ष मदद करने वाली भी बहुत हैं पुलिस जा एक तरफ लॉ एन ऑर्डर का पालन करवा रही है तो दूसरी तरफ लोगों की हर तरह से मदद कर रही है इसी कड़ी में

कोतवाली हल्द्वानी पुलिस द्वारा शुशीला तिवारी अस्पताल और अन्य अस्पतालों के तीमारदारों और रिक्शा चालक मजदूरो आदि के लिए लँचपेकेट जिनमे फल मिठाई बिरयानी सब्जी समोसा …आदि बांटे जा रहे है। पुलिस के द्वारा इस तरह की मदद करने से लोगों के चेहरे खिले हुए हैं उन्हें पुलिस मित्र की तरह लग रही है। अभी तक पुलिस की इमेज डर की बनी हुई थी।

टिहरी गढ़वाल

टिहरी गढ़वाल की देवप्रयाग पुलिस ने #मिशन_हौसला के तहत ऋषिकेश-बद्रीनाथ हाईवे पर आवाजाही करने वाले रोडवेज बस, ट्रक, टैक्सी तथा आवश्यक कार्य से जाने वाले निजी वाहन चालकों व यात्रियों के लिए भोजन माता अभियान शुरू कर तीन धारा में निःशुल्क भोजन उपलब्ध करा रही है।

गौरतलब है की उत्तराखंड पुलिस का स्लोगन है “मित्र पुलिस”, आपदा के इस समय पुलिस जहाँ मुस्तैदी से लॉ एंड आर्डर को फॉलो करवा रही है वहीँ समाज सेवा में भी आगे नज़र आ रही है. मित्र पुलिस के अपने स्लोगन को पूर्ण करते हुए जनता के दिलों में पुलिस की एक अलग ही छवि बन रही है.

पुलिस को इस तरह की शिकायतें आ रही थी की राहगीरों को खाने को लेकर काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है, क्यों की कोरोनाकाल में होटल रेस्तरां बंद होने के कारण भोजन की उपलब्धता नही हो पा रही है, जिसे ध्यान में रखते हुए पुलिस ने इस प्रकार का भोजन माता कार्यक्रम आयोजित किया. इससे लोगो को काफी फायदा हुआ. हम यहाँ एक राहगीर का कमेंट प्रकाशित कर रहा हैं, जिसने पुलिस द्वारा चालाये जा रहे सामाजिक कार्य का लाभ उठाया

कल देहरादून आते समय देवप्रयाग और व्यासी के बीच तीन धारा में अचानक पुलिस द्वारा अचानक रोका गया तो मैं भी कागज दिखाने लगा गाड़ी के..
तभी उत्तराखंड पुलिस के एक भाई जी बड़ी ही सादगी से पास आकर बोलते हैं कि “भाई जी #Uttarakhandpolice द्वारा खाने का लंगर लगाया गया है, रास्ते में सभी होटल बंद है इसलिए आप यहां पर खाना खाकर जाइए”।
मैं बाहर उतरा गाड़ी से और देखा बहुत से लोग वहां पर खाना खा रहे थे।।
मैं तो अपना खाना साथ में लाया था लेकिन फिर भी मैं वहां पर उत्तराखंड पुलिस की तमाम जवानों का शुक्रिया अदा करने गया क्योंकि तीन धारा एक ऐसी जगह है जहां पर अधिकतर पहाड़ की तरफ जाने वाले लोग या बाहर से आने वाले लोग दिन के भोजन के लिए रुकते हैं और इस समय सारे होटल व्यवसाय बंद है तो ऐसे में उत्तराखंड पुलिस की इस मुहिम से बहुत से लोगों को फायदा मिल रहा है।
धन्यवाद #UttarakhandPolice #thiripolice Ashok Kumar IPS
Anoop Singh..

 

Latest News

कोरोना के नए वेरिएंट को लेकर प्रदेश सरकार ने जारी की कोविड प्रतिबंधों की लिस्ट

कोरोना के नए वेरिएंट ओमिक्रॉन को लेकर सरकार की ओर से नई एसओपी जारी की गई है। सरकार ने...

More Articles Like This