10.4 C
Dehradun
Tuesday, January 31, 2023

उत्तराखंड के प्रदीप मेहरा का हुआ मिनर्वा अकादमी में सिलेक्शन, अब बनेंगे सैन्य अफसर

Must Read

उत्तराखंड न्यूज़ एक्सप्रेस के इस समाचार को सुनें
- Advertisement -

सोशल मीडिया पर सुर्खियाँ बटोर चुके उत्तराखंड के रनिंग बॉय प्रदीप मेहरा के कड़े तप और संघर्ष के बाद आखिरकार उनको अपने मुकाम तक पंहुचने की सही राह मिल ही गई है। प्रदीप मेहरा की संघर्ष की कहानी से तो आप सभी बखूबी परिचित है। किस प्रकार प्रदीप देर रात तक काम से लौटते थे और फिर सड़को पर दौड़ लगाते थे क्योंकि उन्हें आर्मी में जाना था और इतना थकने के बाद घर जाकर खाना-बनाना, घर के काम करना अपने आप में ही उस मजबूर नौजवान की संघर्ष की कहानी बयां करती है। विनोद कापड़ी के द्वारा प्रदीप का विडियो वायरल किया गया जिसके बाद प्रदीप को बहुत से अवसर मिलने लगे। और अब प्रदीप को मोहाली (पंजाब) की मिनर्वा सैन्य अकादमी की सौ फीसदी स्कॉलरशिप के साथ अकादमी ज्वाइन करने का ऑफर पसंद आ गया। प्रदीप मेहरा ने इस सैन्य अकादमी को ज्वाइन करने का फैसला कर लिया है। मिनर्वा अकादमी के संचालक रंजीत बजाज के द्वारा प्रदीप मेहरा को अकादमी ज्वाइन करने का आमंत्रण दिया था।

इसके बाद प्रदीप मेहरा ने उनसे संपर्क करके अकादमी ज्वाइन करने का निर्णय लिया। अब प्रदीप मेहरा 3 साल तक मिनर्वा अकादमी मोहाली में ही रहकर पढ़ाई लिखाई करेंगे उनकी पढ़ाई लिखाई खाना-पीना तथा रहने का खर्च अकादमी के द्वारा ही उठाया जाएगा। अकादमी में रहकर प्रदीप मेहरा एसएसबी की तैयारी करेंगे और सैन्य अफसर बनकर ही अकादमी से बाहर आएंगे। अकादमी के संचालक रणजीत बजाज का कहना है कि अकादमी को ज्वाइन करने के बाद प्रदीप मेहरा का फिटनेस टेस्ट लिया गया जिसमें 50 ट्रेनी स्टूडेंट के बीच प्रदीप मेहरा ने टॉप फाइव पोजीशन में अपनी जगह हासिल की। प्रदीप मेहरा के फिटनेस काफी अच्छी है। रंजीत मेहरा के अनुसार अकादमी पहले प्रदीप मेहरा को ग्रेजुएशन की पढ़ाई कराएगी तथा इसके साथ ही उन्हें सैन्य अफसर बनाने के लिए तैयार करेगी। अभी तक मिनर्वा अकादमी से हजारों सैन्य अफसर बन चुके हैं।

- Advertisement -
कोच्चि. केरल के एक विश्वविद्यालय की छात्राएं उपस्थिति की कमी के लिए अतिरिक्त छूट के रूप में “माहवारी राहत”...

Latest News

More Articles Like This