25.4 C
Dehradun
Tuesday, October 4, 2022

सोमवार को मिल जायेगा उत्तराखंड को नया मुख्यमंत्री

Must Read

उत्तराखंड न्यूज़ एक्सप्रेस के इस समाचार को सुनें
- Advertisement -

देहरादून – उत्तराखंड विधानसभा चुनावों के नतीजे आये आज 10 दिन हो गये हैं लेकिन भाजपा की तरफ से अभी तक ऐसा कोई संकेत नहीं मिला है जिसके आधार पर प्रदेश के मुख्यमंत्री की दावेदारी को सुनिश्चित किया जा सके हालाँकि कयास तो काफी लगाये जा रहे हैं. कहा जा रहा है की अनिल बलूनी और अजय भट्ट के नाम पर चर्चा की जा रही है वहीँ पूर्व सीएम रहे निशंक को भी मज़बूत दावेदार बताया जा रहा है, कुछ हलकों में धन सिंह रावत का नाम सामने आ रहा है लेकिन पार्टी का एक धड़ा पुष्कर सिंह धामी को ही दोबारा बागडौर देने की इच्छा जता रहा है.

पुष्कर सिंह धामी का पक्ष इसीलिए भी मज़बूत नज़र आता है की क्योंकी भाजपा ने इनके चेहरे पर चुनाव लड़ा था और बहुमत से चुनावों में विजय हासिल की. जानकारों का कहना है की पूर्व मुख्यमंत्री धामी ने तब पार्टी में जान फूंकी जब तमाम लोग सत्ता परिवर्तन की बात कर रहे थे. ऐसे अगर उनके हाथ में फिर से कमान दी जाती है तो उत्तराखंड में भाजपा काफी मज़बूत हो सकती है.

वहीँ एक नया कयास लगाया जा रहा है की इस बार प्रदेश का मुख्यमंत्री कोई ब्राह्मण चेहरा हो सकता है. तो ऐसे जो नाम निकलकर सामने आता है वो केंद्रीय मंत्री अजय भट्ट का आता लेकिन उनके पहले से ही भाजपा ने बड़ा ओहदा दे रखा है तो ऐसे में उन्हें नयी ज़िम्मेदारी देना काफी मुश्किल लगता है. कहा यह भी जा रहा है की पिछली बार जिस तरह कुमाऊँ से राजपूत जाति का सीएम बनाया गया तो हो सकता है इस बार जातीय समीकरण साधने के लिए भाजपा गढ़वाल से कोई राजपूत चेहरा उठा सकती है तो ऐसे में धन सिंह रावत और सतपाल महाराज पहली पंक्ति में नज़र आ जातें हैं. चूँकि गढ़वाल की 30 सीटों में से 26 सीटें जीतकर भाजपा इस क्षेत्र से अपने बढ़े हुए जनाधार को लेकर उत्साहित तो है लेकिन इससे इस बात की सम्भावना कम हो जाती है जनाधार को बढ़ाने के लिए गढ़वाल से किसी चेहरे की ज़रूरत पड़ेगी.

- Advertisement -

चूँकि भाजपा का मैदानी क्षेत्र से सबसे कम सीटें मिली है अगर ऐसे में इस क्षेत्र को साधने के लिए मुख्यमंत्री का चयन होता है तो फिर से पुष्कर सिंह धामी का नाम सामने आ जाता है, चूँकि पूर्व मुख्यमंत्री अपने विधानसभा क्षेत्र खटीमा से चुनाव हार गए है तो वही एक समस्या उनके सामने खड़ी है. हालाँकि काफी राज्यों में यह भी देखा गया है की मुख्यमंत्री की शपथ के बाद बाद में हुए चुनावों में मुख्यमंत्री ने जीत हासिल कर ली है.

कल विधायकों की शपथ

उत्तराखंड के विधायकों को कल यानी सोमवार को 11 बजे शपथ दिलाई जाएगी. इसके बाद बाद 4 बजे विधायक दल की बैठक होगी. ये जानकारी उत्तराखंड बीजेपी अध्यक्ष मदन कौशिक ने दी है. वहीं उत्तराखंड के सीएम को लेकर BJP दिल्ली में बैठक कर रही है. BJP आलाकमान के बुलाने पर कार्यवाहक CM पुष्कर धामी, पूर्व CM त्रिवेंद्र सिंह रावत और मदन कौशिक दिल्ली पहुंचे. दिल्ली कार्यवाहक सीएम पुष्कर सिंह धामी ने कहा कि केंद्रीय नेतृत्व मुख्यमंत्री के चेहरे पर मुहर लगाएगा. धामी ने कहा प्रधानमंत्री के नेतृत्व में उत्तराखंड की जनता ने एक मिथक तोड़ा है और लगातार दूसरी बार BJP की सरकार बनाई है, सरकार गठन की प्रक्रिया चल रही है.

उत्तराखंड में सरकार गठन को लेकर जारी कवायद के बीच रविवार को केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह के आवास पर भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के वरिष्ठ नेताओं की एक महत्वपूर्ण बैठक हुई. सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक इस बैठक में भाजपा अध्यक्ष जे पी नड्डा, संगठन महासचिव बी एल संतोष और राज्य के केंद्रीय चुनाव प्रभारी प्रह्लाद जोशी के अलावा उत्तराखंड के कार्यवाहक मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी, प्रदेश अध्यक्ष मदन कौशिक, पूर्व मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत और पूर्व केंद्रीय मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक भी मौजूद रहे.

- Advertisement -
देहरादून - अंकिता भंडारी की हत्या को लेकर एसआईटी केस को सुलझाने की मशक्कत में लगी हुई है. जिसमे...

Latest News

More Articles Like This