Headline
पीएम मोदी के कार्यक्रम में किच्छा के युवक को किया गया नोमिनेट
सुप्रीम कोर्ट की फटकार : हरक सिंह रावत और किशन चंद को कॉर्बेट नेश्नल पार्क मामले में नोटिस
उत्तराखंड के ग्राफिक एरा यूनिवर्सिटी में CM धामी ने किया छठवें वैश्विक आपदा प्रबंधन सम्मेलन का शुभारम्भ
उत्तराखंड में निर्माणाधीन टनल धंसने से बड़ा हादसा, सुरंग में 30 से 35 लोगों के फंसे होने की आशंका, रेस्क्यू ऑपरेशन जारी
मशहूर टूरिस्ट स्पॉट पर हादसा, अचानक टूट गया कांच का ब्रिज, 30 फीट नीचे गिरकर पर्यटक की मौत
81000 सैलरी की बिना परीक्षा मिल रही है नौकरी! 12वीं पास तुरंत करें आवेदन
देश के सबसे शिक्षित राज्य में चपरासी की नौकरी के लिए कतार में लगे इंजीनियर, दे रहे साइकिल चलाने का टेस्ट
Uttarakhand: पहली बार घर-घर किया गया विशेष सर्वे, प्रदेश से दो लाख मतदाता गायब, नोटिस जारी
Uttarakhand: धामी सरकार का एलान, राज्य स्थापना दिवस तक हर व्यक्ति को मिलेगा आयुष्मान कवच

कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच एक्शन में उत्तराखंड सरकार, संक्रमण को लेकर अलर्ट जारी

देहरादून. कोरोना के खतरनाक वायरस ने एक बार दस्तक दी है. पड़ोसी देश चीन में कोरोना के कहर से हालत बद से बदतर होते जा रहे हैं. दुनिया के तमाम देश इस वक्त नए साल 2023 के आगमन की तैयारी कर रहे हैं. ऐसे में पर्यटक स्थलों पर भारी भीड़ उमड़ने की संभावना है. सालभर पर्यटकों से आबाद रहने वाले राज्य उत्तराखंड में न्यू ईयर को लेकर खास सतर्कता बरती जा रही है.

इन दिनों दुनिया की सबसे ज्यादा आबादी वाले देश चीन में ओमिक्रॉन का सबवेरिएंट BF.7 कहर बरपा रहा है. नए वैरीएंट की आहट को देखते हुए भारत का स्वास्थ्य मंत्रालय भी अलर्ट हो चुका है. केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण की ओर से राज्य सरकार को पत्र भेजा गया है, जिसमें राज्य के स्वास्थ्य महकमे को इस खतरे के मद्देनजर अलर्ट रहने की बात कही है. केंद्र सरकार की ओर से मिले दिशा-निर्देश के बाद उत्तराखंड स्वास्थ्य विभाग भी सतर्क हो गया है. स्वास्थ्य महानिदेशक डॉ शैलजा भट्ट ने सभी जिलों के जिलाधिकारियों और सीएमओ को सतर्कता बरतने के निर्देश दिए है. राज्य के स्वास्थ्य विभाग के द्वारा जल्द ही इस संबंध में एसओपी जारी की जाएगी.

एक दिन पहले केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण द्वारा जारी की गई. एडवाइजरी के बाद उत्तराखंड के स्वास्थ्य सचिव डॉ राजेश कुमार ने राज्य के सभी सीएमओ को निगरानी रखने के लिए निर्देशित किया है. इसी के साथ ही उन्होंने उत्तराखंडवासियों से कोविड प्रोटोकॉल का पालन करने की अपील की है. जिसमें सैनिटाइजर और मास्क का नियमित उपयोग और सामाजिक दूरी का पालन करने की अपील भी की गई है. राजधानी देहरादून के दून मेडिकल कॉलेज में जीनोम सीक्वेंसिंग की सुविधा उपलब्ध है, जहां कोविड संक्रमितों की जांच की जाएगी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back To Top