Headline
पीएम मोदी के कार्यक्रम में किच्छा के युवक को किया गया नोमिनेट
सुप्रीम कोर्ट की फटकार : हरक सिंह रावत और किशन चंद को कॉर्बेट नेश्नल पार्क मामले में नोटिस
उत्तराखंड के ग्राफिक एरा यूनिवर्सिटी में CM धामी ने किया छठवें वैश्विक आपदा प्रबंधन सम्मेलन का शुभारम्भ
उत्तराखंड में निर्माणाधीन टनल धंसने से बड़ा हादसा, सुरंग में 30 से 35 लोगों के फंसे होने की आशंका, रेस्क्यू ऑपरेशन जारी
मशहूर टूरिस्ट स्पॉट पर हादसा, अचानक टूट गया कांच का ब्रिज, 30 फीट नीचे गिरकर पर्यटक की मौत
81000 सैलरी की बिना परीक्षा मिल रही है नौकरी! 12वीं पास तुरंत करें आवेदन
देश के सबसे शिक्षित राज्य में चपरासी की नौकरी के लिए कतार में लगे इंजीनियर, दे रहे साइकिल चलाने का टेस्ट
Uttarakhand: पहली बार घर-घर किया गया विशेष सर्वे, प्रदेश से दो लाख मतदाता गायब, नोटिस जारी
Uttarakhand: धामी सरकार का एलान, राज्य स्थापना दिवस तक हर व्यक्ति को मिलेगा आयुष्मान कवच

डेंगू के साथ अब उत्तराखंड में इस जानलेवा बीमारी की दस्तक, ऐसे होगा बचाव

उत्तराखंड में डेंगू के बाद अब इस जानलेवा बीमारी ने दस्तक दे दी है। डॉक्टरों की राय मानें तो जरूरी बचाव कर इस बीमारी से बचा जा सकता है। लक्षणों का पता चलते ही चिकित्सकीय सलाह लेना बहुत जरूरी है। हरिद्वार में डेंगू के साथ अब स्क्रब टाइफस के मामले भी सामने आने लगे हैं।

जिला अस्पताल में स्क्रब टाइफस के छह मरीज भर्ती किए गए। इनमें से तीन मरीजों को जिला अस्पताल से छुट्टी दे दी गयी है। इस सीजन में यह पहला मामला है जब स्क्रब टाइफस के मामले सामने आए हैं। हरिद्वार जिले में डेंगू के मरीज लगातार सामने आ रहे हैं। जिला अस्पताल प्रबंधन ने डेंगू के मरीजों के लिए छह बेड का अतिरिक्त आइसोलेशन वार्ड बनाया है।

अभी डेंगू के मरीजों की संख्या कम नहीं हुई थी कि स्क्रब टाइफस से जुड़े मामले भी आने लगे हैं। जिला अस्पताल में स्क्रब टाइफस से पीड़ित छह मरीज भर्ती हो चुके हैं। जिला अस्पताल के वरिष्ठ चिकित्सक डॉ. चंदन मिश्रा ने बताया कि अस्पताल में स्क्रब टाइफस के छह मरीज भर्ती हुए थे। तीन मरीजों की तबीयत में सुधार होने के बाद उनको छुटटी दे दी गयी। तीन मरीज अभी भी जिला अस्पताल में भर्ती हैं।

ये हैं लक्षण
स्क्रब टाइफस के लक्षणों में मरीज को तेज बुखार, सिर दर्द, मांसपेशियों में अकड़न और शरीर में टूटन बनी रहती है। डॉ. चंदन मिश्रा ने बताया कि बीमारी के लक्षण नजर आने पर तत्काल अस्पताल में जाकर जांच कराएं।

कैसे फैलता है स्क्रब टाइफस
स्क्रब टाइफस आमतौर पर उन लोगों को होता है जो झाड़ियों वाले क्षेत्रों के आसपास रहते हैं। इस रोग का कारण बनने वाला बैक्टीरिया एक प्रकार के छोटे कीड़े के काटने से मनुष्य के शरीर पहुंचता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back To Top