Headline
पीएम मोदी के कार्यक्रम में किच्छा के युवक को किया गया नोमिनेट
सुप्रीम कोर्ट की फटकार : हरक सिंह रावत और किशन चंद को कॉर्बेट नेश्नल पार्क मामले में नोटिस
उत्तराखंड के ग्राफिक एरा यूनिवर्सिटी में CM धामी ने किया छठवें वैश्विक आपदा प्रबंधन सम्मेलन का शुभारम्भ
उत्तराखंड में निर्माणाधीन टनल धंसने से बड़ा हादसा, सुरंग में 30 से 35 लोगों के फंसे होने की आशंका, रेस्क्यू ऑपरेशन जारी
मशहूर टूरिस्ट स्पॉट पर हादसा, अचानक टूट गया कांच का ब्रिज, 30 फीट नीचे गिरकर पर्यटक की मौत
81000 सैलरी की बिना परीक्षा मिल रही है नौकरी! 12वीं पास तुरंत करें आवेदन
देश के सबसे शिक्षित राज्य में चपरासी की नौकरी के लिए कतार में लगे इंजीनियर, दे रहे साइकिल चलाने का टेस्ट
Uttarakhand: पहली बार घर-घर किया गया विशेष सर्वे, प्रदेश से दो लाख मतदाता गायब, नोटिस जारी
Uttarakhand: धामी सरकार का एलान, राज्य स्थापना दिवस तक हर व्यक्ति को मिलेगा आयुष्मान कवच

उत्तराखंड: मुख्यमंत्री ने की डीए की घोषणा, डाउन ग्रेड वेतनमान पर कमेटी, कर्मचारियों की बेमियादी हड़ताल टली

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी की ओर से मांगों पर कार्रवाई के आश्वासन के बाद उत्तराखंड अधिकारी कर्मचारी शिक्षक समन्वय समिति ने 10 नवंबर से प्रस्तावित अनिश्चितकालीन हड़ताल स्थगित कर दी है। शुक्रवार को मुख्यमंत्री ने समिति से हुई वार्ता के दौरान राज्य कर्मचारियों के लिए चार प्रतिशत महंगाई भत्ते (डीए) की भी घोषणा की। समिति का दावा है कि सोमवार तक डीए का शासनादेश जारी हो जाएगा।

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी से शनिवार को मुख्यमंत्री आवास में हुई वार्ता के दौरान समिति ने 20 सूत्रीय मांगपत्र रखा। सीएम ने सिलसिलेवार मांगें सुनी और समस्याओं के समाधान के लिए अलग-अलग समितियां बनाने के निर्देश दिए। इन समितियों में कर्मचारी संगठनों के प्रतिनिधि भी शामिल होंगे। बैठक में मुख्यमंत्री ने अपर मुख्य सचिव (मुख्यमंत्री) की अध्यक्षता में वित्त और कार्मिक विभाग के अधिकारियों की समिति बनाकर समिति की समस्याओं का समाधान करने के निर्देश दिए।

इस अवसर पर अपर मुख्य सचिव राधा रतूड़ी, आनंद बर्द्धन, प्रमुख सचिव आरके सुधांशु, सचिव शैलेश बगोली, आर राजेश कुमार, समन्वय समिति के सदस्यों में प्रताप सिंह पंवार, अरुण पांडे, पंचम सिंह बिष्ट, पूर्णानंद नौटियाल समेत कई अन्य पदाधिकारी थे।

कैबिनेट मंत्री की अध्यक्षता में बनेगी कमेटी
डाउन ग्रेड वेतन पर हुए निर्णय से नाराज समिति को मुख्यमंत्री ने आश्वस्त किया कि कैबिनेट मंत्री की अध्यक्षता में एक समिति बनेगी। समिति कर्मचारी प्रतिनिधियों से रायशुमारी कर रिपोर्ट देगी। इस रिपोर्ट पर सरकार निर्णय लेगी।

एचओडी, डीएम हर महीने और सचिव तीन महीने में करेंगे बैठक
मुख्यमंत्री ने निर्देश दिए कि कर्मचारियों की समस्याओं के समाधान के लिए सभी विभागाध्यक्ष और जिलाधिकारी हर महीने कर्मचारी प्रतिनिधियों के साथ बैठक करेंगे जबकि सचिव स्तर तीन माह में बैठक होगी। ‘हमें आंदोलन और हड़ताल की सोच बदलनी होगी’। मुख्यमंत्री ने कहा कि समस्या का समाधान आपसी बातचीत से ही संभव है। हमें आंदोलन या हड़ताल की सोच को बदलकर आपसी सहमति से ही समस्याओं का समाधान पर ध्यान देना चाहिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back To Top