उत्तराखंड आने वाले टूरिस्ट ध्यान दें – फर्जी RT-PCR रिपोर्ट लगाने वाले 13 टूरिस्‍ट पकड़े गए, चार लोग गिरफ्तार

Must Read

उत्तराखंड न्यूज़ एक्सप्रेस के इस समाचार को सुनें

देहरादून- कोरोना वायरस के प्रसार को रोकने के लिए नवीन उत्तराखंड सरकार काफी गंभीर नज़र आ रही है. अभी हाल ही मैंने टूरिस्ट प्लेस पर कोविड-19 की नेगेटिव रिपोर्ट कम्पलसरी होने के बाद हालाँकि टूरिस्टों की भीड़ थोड़ी कम ज़रूर हुई है लेकिन उसमे भी कुछ ऐसे लोग भी मौजूद है जिनके लिए कोरोना अभी तक एक मजाक के सिवा कुछ नही. यहाँ तक की कोरोना की फर्जी नेगेटिव रिपोर्ट बनाने से भी गुरेज़ नही कर रहे.

उत्‍तराखंड पुलिस ने 13 टूरिस्‍ट्स को पकड़ा है जो देहरादून-मसूरी घूमने आए थे। उन्‍होंने क्‍लीमेंट टाउन में फर्जी RT-PCR रिपोर्ट लगाई थी। जांच के बाद पुलिस ने 4 लोगों को फर्जी कागज बनाने के आरोप में गिरफ्तार किया है। अभी तक 100 फर्जी RT-PCR रिपोर्ट्स का पता चला है।

फर्जी रिपोर्ट की जानकारी प्रकाश में आने के बाद से पुलिस महकमा चौकन्ना हो गया है और अब राज्य में आने वाले हर टूरिस्ट की रिपोर्ट की गहनता से जांच की जा रही है.

जिलाधिकारी का आदेश – 72 घंटे पूर्व की कोविड नेगेटिव रिपोर्ट, स्मार्ट सिटी पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन तथा होटल बुकिंग का प्रमाण अनिवार्य 

जिलाधिकारी देहरादून डॉ आशीष कुमार श्रीवास्तव द्वारा कोविड-19 संक्रमण की रोकथाम के दृष्टिगत सप्ताहांत पर मसूरी आने हेतु दो-पहिया वाहनों का प्रवेश वर्जित कर दिया हैं । साथ ही अन्य वाहनों से मसूरी केवल उन्हीं पर्यटकों को आने की अनुमति होगी, जिनके पास देहरादून स्मार्ट सिटी पोर्टल पर आॅनलाईन रजिस्ट्रेशन, 72 घण्टे पूर्व की कोविड नेगेटिव टेस्ट रिपोर्ट तथा मसूरी होटल की बुकिंग के साक्ष्य उपलब्ध होंगे । इसके अतिरिक्त सहस्त्रधारा, गुच्चुपानी एवं मसूरी में किसी भी व्यक्ति को तालाब, नदी झरने आदि में प्रवेश करने की अनुमति नही होगी।

 

Latest News

कोरोना को लेकर सरकार सख्त: बिना मास्क पकड़े जाने पर 1000 रुपए तक जुर्माना

देहरादून राजधानी की सड़कों व बाजारों में बिना मास्क के घूमने वालों को यह खबर सावधान करने वाली है।...

More Articles Like This