22.9 C
Dehradun
Wednesday, October 5, 2022

उत्तराखंड की नई सरकार ने किया मंत्रालयों का बंटवारा, जाने किसे मिली है कौन सी ज़िम्मेदारी

Must Read

उत्तराखंड न्यूज़ एक्सप्रेस के इस समाचार को सुनें
- Advertisement -

उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने मंत्रालयों का बंटवारा कर दिया है जिसकी सूचना देर रात परिषद विभाग द्वारा प्रदान की गई है। आपको बता दें कि मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने अपने पास 21 मंत्रालय रखे है और उनको 24 विभाग मिले है। अब आपको बता देते है कि किसे कौन से विभाग प्राप्त हुए है और किसकी ज़िम्मेदारी बधाई गई है।
मुख्यमंत्री धामी के मंत्रालयों की बात की जाये तो कार्मिक एवं सतर्कता, सचिवालय प्रशासन, सामान्य प्रशासन, नियोजन, राज्यसंपत्ति, सूचना, गृह, राजस्व, औद्योगिक विकास खनन, औद्योगिक विकास, श्रम, सूचना प्रौद्योगिकी एवं विज्ञान प्रौद्योगिकी, पेयजल, ऊर्जा, आयुष एवं आयुष शिक्षा, आबकारी, न्याय, पर्यावरण संरक्षण एवं जलवायु परिवर्तन, आपदा प्रबंधन एवं पुनर्वास, नागरिक उड्डयन मंत्रालय धामी ने अपने पास रखे है।

वही मुख्यमंत्री धामी को मिले विभागों के नाम बताये जाये तो कार्मिक एवं अखिल भारतीयों सेवाओं का संस्थापना विषय कार्य, सतर्कता, सुराज, भ्रष्टाचार उन्मूलन एवं जनसेवा, सचिवालय प्रशासन, सामान्य प्रशासन, नियोजन, राज्य संपत्ति, सूचना, गृह, कारागार, नागरिक सुरक्षा एवं होमगार्ड, अर्द्ध सैनिक कल्याण, राजस्व, औद्योगिक विकास एवं खनन, औद्योगिक विकास, श्रम, सूचना प्रौद्योगिकी, विज्ञान प्रौद्योगिकी, पेयजल, ऊर्जा एवं वैकल्पिक ऊर्जा, आयुष, आबकारी, न्याय, पर्यावरण संरक्षण एवं जलवायु परिवर्तन, आपदा प्रबंधन एवं पुनर्वास व नागरिक उड्डयन।

वरिष्ठ केबिनेट मंत्री सतपाल महाराज के मंत्रालयों में ज़्यादा बदलाव नहीं किया गया है। सतपाल महाराज के मंत्रालयों एवं विभाग के नाम बताये तो लोक निर्माण विभाग, पंचायती राज, ग्रामीण निर्माण, संस्कृति, धर्मस्व, पर्यटन जलागम प्रबंधन,भारत-नेपाल उत्तराखंड नदी परियोजनाएं, सिंचाई एवं लघु सिंचाई उनको दिए गए है।

प्रेम चंद्र अग्रवाल की बात करे तो उनको वित्त, शहरी विकास, आवास, विधायी एवं संसदीय कार्य, पुनगर्ठन, जनगणना मंत्रालय सौंपे गए है और वित्त, वाणिज्य, कर, स्टांप एवं निबंधन, शहरी विकास, आवास, विधायी एवं संसदीय कार्य, पुनर्गठन, जनगणना विभाग सौंपे गए है।

- Advertisement -

गणेश जोशी को कृषि एवं कृषक कल्याण, सैनिक कल्याण व ग्राम्य विकास मंत्रालय और कृषि, कृषि शिक्षा, कृषि विपणन, उद्यान एवं कृषि प्रसंस्करण, उद्यान एवं फलोद्योग, रेशम विकास, जैव प्रौद्योगिकी, सैनिक कल्याण और ग्राम्य विकास के विभाग सौंपे गए है ।

कैबिनेट मंत्री डॉ.धनसिंह रावत का कद बढ़ा है। उन्हें प्राथमिक, माध्यमिक और उच्च शिक्षा मंत्रालय यानी कि विद्यालयी शिक्षा (बेसिक) (माध्यमिक), संस्कृत शिक्षा, सहकारिता, उच्च शिक्षा, चिकित्सा स्वास्थ्य एवं चिकित्सा शिक्षा मंत्रालय प्रदान किये गए है ।
वहीं उन्हें प्रदान विभागों के नाम है विद्यालयी शिक्षा (बेसिक)(माध्यमिक), संस्कृत शिक्षा, सहकारिता, उच्च शिक्षा, चिकित्सा स्वास्थ्य एवं चिकित्सा शिक्षा विभाग जो उन्हें प्रदान किये गए है।

इन सब के अलावा सुबोध उनियाल का कार्यभार थोड़ा हल्का किया गया है। उनको वन, भाषा, निर्वाचन एवं तकनीकी शिक्षा के मंत्रालय एवं विभाग सौंपे गए है।

रेखा आर्य का कार्यभार इस बार बढ़ा दिया गया है। उनको महिला सशक्तीकरण एवं बाल विकास, खाद्य, नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता मामले, खेल एवं युवा कल्याण के मंत्रालय एवं विभाग सौंपे गए है ।

वहीं चन्दन राम दास को समाज कल्याण, अल्पसंख्यक कल्याण, परिवहन, लघु एवं सूक्ष्म, मध्यम उद्यम मंत्रालय सौंपे गए है और समाज कल्याण, अल्पसंख्यक कल्याण, छात्र कल्याण, परिवहन, लघु सूक्ष्म एवं मध्यम उद्यम, खादी एवं ग्रामोद्यो विभाग भी दिए गए है।

और सौरभ बहुगुणा को पशुपालन, दुग्ध विकास एवं मत्स्य पालन, गन्ना विकास एवं चीनी उद्योग, प्रोटोकॉल, कौशल विकास एवं सेवायोजन मंत्रालय एवं विभाग दिए गए है।

- Advertisement -
देहरादून - अंकिता भंडारी की हत्या को लेकर एसआईटी केस को सुलझाने की मशक्कत में लगी हुई है. जिसमे...

Latest News

More Articles Like This