Headline
पीएम मोदी के कार्यक्रम में किच्छा के युवक को किया गया नोमिनेट
सुप्रीम कोर्ट की फटकार : हरक सिंह रावत और किशन चंद को कॉर्बेट नेश्नल पार्क मामले में नोटिस
उत्तराखंड के ग्राफिक एरा यूनिवर्सिटी में CM धामी ने किया छठवें वैश्विक आपदा प्रबंधन सम्मेलन का शुभारम्भ
उत्तराखंड में निर्माणाधीन टनल धंसने से बड़ा हादसा, सुरंग में 30 से 35 लोगों के फंसे होने की आशंका, रेस्क्यू ऑपरेशन जारी
मशहूर टूरिस्ट स्पॉट पर हादसा, अचानक टूट गया कांच का ब्रिज, 30 फीट नीचे गिरकर पर्यटक की मौत
81000 सैलरी की बिना परीक्षा मिल रही है नौकरी! 12वीं पास तुरंत करें आवेदन
देश के सबसे शिक्षित राज्य में चपरासी की नौकरी के लिए कतार में लगे इंजीनियर, दे रहे साइकिल चलाने का टेस्ट
Uttarakhand: पहली बार घर-घर किया गया विशेष सर्वे, प्रदेश से दो लाख मतदाता गायब, नोटिस जारी
Uttarakhand: धामी सरकार का एलान, राज्य स्थापना दिवस तक हर व्यक्ति को मिलेगा आयुष्मान कवच

मोबाइल गेम में हार गया स्कूल फीस के 25,000 रुपए, घरवालों से गढ़ दी लूट की झूठी कहानी, पुलिस ने ऐसे किया पर्दाफाश

हल्द्वानी- उत्तराखंड न्यूज़ एक्सप्रेस – मोबाइल गेमिंग किस तरह युवाओं और बच्चों की ज़िन्दगी बर्बाद कर रहा है इसकी बानगी हल्द्वानी में देखने को मिली जहाँ एक छात्र ने स्कूल फीस जमा करने के लिए दिए 25 हज़ार रुपए ऑनलाइन गेम की लत में गवां दिए और घर वालो से लूट की झूठी कहानी गढ़ दी. जिसके बाद परिवार से लेकर पुलिस महकमे तक में खलबली मच गयी.

हुआ यूं की काशीपुर के एक निवासी जिनका नाम किशनलाल टम्टा है उन्होंने पुलिस को सूचना दी के उनके पुत्र के साथ लूटपाट हुई है तथा बेटे को मारपीट करके तीन लड़के 25 हज़ार रुपए लेकर भाग गये.उनका पुत्र सौरभ टम्टा उत्तराखंड मुक्त विश्वविद्यालय में कॉलेज की फीस जमा करने जा रहा था.”

अब जैसे ही जानकारी एसपी सिटी जगदीश चन्द्र को मिली वो तुरंत मौके पर पहुँच गये और जांच शुरू कर दी, लुटेरो की तलाश के लिए तीन टीमें गठित कर दी गई। एसपी सिटी ने बताया कि जिस बैंक से 25 हजार निकालने की बात कही जा रही थी, वहां प्रबंधक ने पैसे निकालने से इन्कार कर दिया। जिसके बाद मामले का पर्दाफाश हो सका। पुलिस ने जब सख्ती दिखाई तो उसने बताया कि तीन पत्ती ऑनलाइन गेम में उसने 25 हजार रुपये गंवा दिए। घरवालों की फटकार से बचने के लिए लूट की कहानी गढ़ डाली।

झूठी सूचना पर पुलिस ने आरोपित छात्र का पांच हजार रुपये का चालान किया है। एसपी सिटी डा. जगदीश चंद्र ने बताया कि ऑनलाइन जुआ खेलकर स्वजनों व पुलिस को झूठी सूचना देने का मामला गंभीर है। अभिभावकों से अपील है कि पाल्यों पर निगाह रखें। उनकी गतिविधियों पर ध्यान देने की जरूरत है।

मोबाइल फ़ोन के इस्तेमाल से जहाँ ज़िन्दगी काफी सरल हुई है वहीँ इसकी लत लगना ज़िन्दगी को इसका गुलाम बनाने जैसी है. यह मामला तो खुल गया लेकिन ऐसे कितने ही मामले होते होंगे जो सामने नहीं आ पाते और कलह का कारण बन जातें हैं.

UPDATE

इस मामले को लेकर पुलिस ने एक अपडेट दिया है जिसमे बताया गया है की झूठी सूचना देने पर छात्र पर 5000 रुपए का फाइन लगाते हुए चालान काटा गया है. पुलिस द्वारा दी गयी जानकारी निम् है

#ऑनलाइन_गेम खेलकर 25000/-रू0 हार कर पुलिस को लूट की झूठी सूचना देने पर नैनीताल पुलिस ने किया 5000/-का चालान।

#संक्षिप्त_विवरण
दिनांक 11/8/21 को वादी पुत्र किशन लाल टम्टा निवासी शशि बिहार काशीपुर ने समय लगभग 1200 बजे कोतवाली हल्द्वानी पुलिस को सूचना दी कि उसका पुत्र सौरभ टम्टा ओपन विश्वविध्यालय की स्कूल फीस जमा करने तीन पानी हल्द्वानी जा रहा था.तो ओपन विश्वविध्यालय के पास उसके साथ तीन लड़को ने मारपीट करते हुये उससे 25000/- हजार रुपए की धनराशि लूट कर भाग गये है। उक्त घटित घटना की सूचना पर तुरंत चौकी मंडी से पुलिस मौके पर पहुची और घटना की जानकारी उच्च अधिकारियो को दी गयी मौके पर डॉ0 श्री जगदीश चन्द्र अपर पुलिस अधीक्षक हल्द्वानी व श्री कैलाश नेगी निरीक्षक कोतवाली हल्द्वानी मय पुलिस के मौके पर पहुॅच कर घटित घटना की जॉच करते हुये सूचना को जनपद को दी गई व घेराबंदी की गई घटना के बारे में सौरभ से गहनता से पूछताछ की गयी तो सौरभ टम्टा द्वारा बताया की उसने ऑनलाइन तीन पट्टी गेम अपने मोबाइल से खेला था जिसमे वह 25000 रुपए हार गया तथा घरवालो के डर से लूट की झूठी सूचना दी गई मौके पर उसके परिजन भी पहुंच गए थे पुलिस को *झूठी सूचना देने पर सौरभ टम्टा का पुलिस द्वारा तत्काल 5000/- रुपए का पुलिस अधिनियम के अन्तर्गत चालान किया गया व परिजनों के सम्मुख सौरभ टम्टा की कांउसिलिंग की गई।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back To Top