Headline
पीएम मोदी के कार्यक्रम में किच्छा के युवक को किया गया नोमिनेट
सुप्रीम कोर्ट की फटकार : हरक सिंह रावत और किशन चंद को कॉर्बेट नेश्नल पार्क मामले में नोटिस
उत्तराखंड के ग्राफिक एरा यूनिवर्सिटी में CM धामी ने किया छठवें वैश्विक आपदा प्रबंधन सम्मेलन का शुभारम्भ
उत्तराखंड में निर्माणाधीन टनल धंसने से बड़ा हादसा, सुरंग में 30 से 35 लोगों के फंसे होने की आशंका, रेस्क्यू ऑपरेशन जारी
मशहूर टूरिस्ट स्पॉट पर हादसा, अचानक टूट गया कांच का ब्रिज, 30 फीट नीचे गिरकर पर्यटक की मौत
81000 सैलरी की बिना परीक्षा मिल रही है नौकरी! 12वीं पास तुरंत करें आवेदन
देश के सबसे शिक्षित राज्य में चपरासी की नौकरी के लिए कतार में लगे इंजीनियर, दे रहे साइकिल चलाने का टेस्ट
Uttarakhand: पहली बार घर-घर किया गया विशेष सर्वे, प्रदेश से दो लाख मतदाता गायब, नोटिस जारी
Uttarakhand: धामी सरकार का एलान, राज्य स्थापना दिवस तक हर व्यक्ति को मिलेगा आयुष्मान कवच

पिता ने बच्चों से पूछा- जीना चाहते हो, बोले- नहीं, फिर कार नहर में कूदा दी, वजह सन्न कर देगी

पंजाब के फिरोजपुर में घरेलू कलह के चलते एक व्यक्ति ने अपने संग तीन लोगों को लेकर कार नहर में उतार दी। उक्त व्यक्ति ने घ’टना से पूर्व फेसबुक पर लाइव होकर आपबीती सुनाई। यही नहीं बच्चों से भी पूछा क्या तुम जीना चाहते हो तो बच्चों ने कहा नहीं। हुआ यूं कि कुछ दिन पहले उक्त व्यक्ति की पत्नी अपने दोनों बच्चों को छोड़कर किसी व्यक्ति के संग चली गई। इसी बात से वह परेशान था।

गोताखोर मंगलवार देर शाम तक नहर में चारों की तलाश कर रहे थे। नहर में सिर्फ कार मिली है और कोई नहीं मिला। नहर में छलांग लगाने वाला जसविंदर सिंह उर्फ राजू का भाई सोनू निवासी फाजिल्का ने बताया कि उसके भाई की पत्नी को काला संधू निवासी छावनी लेकर गया है। काला उसके भाई को जान से मारने की ध’मकी देता था।

राजू ने संधू को टेलीफोन कर कहा कि मेरी पत्नी लौटा दे, मेरे बच्चे बर्बाद न कर। इस संबंध में थाना सिटी के प्रभारी मोहित धवन को शिकायत भी दी थी लेकिन कोई कार्रवाई नहीं हुई। परिजनों का कहना है कि राजू पत्नी के घर से जाने के बाद बहुत परेशान था। वह जानते थे कि यह कोई गलत कदम न उठा ले। राजू मंगलवार सुबह अपने साथ कार में बेटी गुरलीन (8) और बेटा दिव्यांश (9) को साथ ले गया। जब इसने फेसबुक पर लाइव होकर आपबीती सुनाई तो उससे संपर्क कर उसे समझाया गया और तलवंडी भाई की तरफ गए।

समझाने फाजिल्का से आया भाई सोनू, दिव्यांग भाई हरप्रीत सिंह व भतीजा आगम एक्टिवा पर तलवंडी भाई की तरफ गए। वहां पर राजू उन्हें अपने दोनों बच्चों के साथ कार पर मिला। राजू को समझाया और उसे घर वापस लेकर आ रहे थे। कार में आते समय राजू का बेटा कार से उतरकर अपने ताया सोनू की एक्टिवा पर बैठ गया। जबकि दिव्यांग भाई हरप्रीत और भतीजा आगम कार में बैठ गए। जब राजू कार लेकर फिरोजपुर लौट रहा था तो उसने रास्ते में राजस्थान फीडर नहर में कार को गिरा दिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back To Top