25.4 C
Dehradun
Tuesday, October 4, 2022

बॉबी ने अपने विडियो में किसकी उड़ाई मज़ाक?, डीजीपी बोले आवश्यक कार्यवाही की जाएगी

Must Read

उत्तराखंड न्यूज़ एक्सप्रेस के इस समाचार को सुनें
- Advertisement -

उत्तराखंड की सड़कों पर टेबल चेयर लगाकर खुलेआम शराब पीने का विडियो बनाने वाले तथा हवाई जहाज़ में लेटकर सिगरेट सुलगाने वाला बॉबी कटारिया ने अपने इन्स्टाग्राम अकाउंट से चिढ़ाने वाले 2 और विडियो अपलोड किये हैं.

इन विडियो में बॉबी बोलता हुआ नज़र आ रहा है की “आजकल तो बॉबी कटारिया के नाम का ट्रेंड्ज़ चल रहा है बड़े बड़े लोग भी हमारे नाम का फायदा उठा करके। पब्लिसिटी ले रहे हैं। मैं कहता हूँ ना चाहे अच्छा ही बोलकर चाहे बुरा ही बोल करके मेरे नाम से बिलकुल आसानी से पब्लिसिटी ले सकते हैं। समझ गए होंगे हम किसकी बात कर रहे हैं।

 

View this post on Instagram

 

A post shared by Bobby Kataria (@katariabobby)

- Advertisement -

आपको बताते चलें की खानपुर उत्तराखंड से विधायक उमेश कुमार ने इस मामले को उठाया था जिसके बाद डीजीपी अशोक कुमार ने कार्यवाही करने की बात कही थी, बॉबी कटारिया ने इस विडियो में विधायक उमेश कुमार को इशारों में टारगेट किया है लेकिन समाचार प्लस चैनल के मालिक और उसके बाद चुनाव जीतने वाले उमेश कुमार की ख्याति राष्ट्रिय स्तर पर है जिस पर यह कहना की “कुछ लोग पब्लिसिटी ले रहे हैं, वो किसी भी लिहाज से जस्टिफाई नहीं होता”.

वहीँ दुसरे विडियो में अपने उपर लगे मुक़दमे को मजाकिया लहज़े में लेते हुए बॉबी कटारिया कहता है की “अरे बाबा रे बाबा ये क्या क्या न्यूज़ चल रही है? मैंने तो सपना देखा था छोटा सा के एमबीएस मॉल के बाहर मेरी फोटो लगी हुई है। यहाँ तो आप लोगों ने वर्ल्डवाइड फेमस कर दी है यार।

 

View this post on Instagram

 

A post shared by Bobby Kataria (@katariabobby)

आपको बतातें चलें की जैसे ही बॉबी कटारिया के ऊपर लगे मुकदमों की बात सामने आई वैसे ही बॉबी ने अपने सोशल मीडिया अकाउंट से एक विडियो जारी करते हुए कहा की इस बार का 15 अगस्त वो दुबई में मनाएंगे, लोगो का कहना है की पुलिस की कार्यवाही से डरकर बॉबी दुबई भाग गया है.

 

 

View this post on Instagram

 

A post shared by Bobby Kataria (@katariabobby)

क्या कहा उत्तराखंड पुलिस के डीजीपी अशोक कुमार ने ?

उत्तराखंड के डीजीपी अशोक कुमार इस मामले को लेकर काफी गंभीर नज़र आ रहे हैं, जहाँ इस मामले को उन्होंने संज्ञान में लेते हुए तुरंत इन्फ्लुएंसर पर कार्यवाही करने का निर्देश जारी किया वहीँ डीजीपी अपने सभी सोशल मीडिया अकाउंट से इस मामले के सम्बन्ध में पोस्ट कर चुकें हैं

डीजीपी अशोक कुमार का कहना है की “उत्तराखण्ड पुलिस ‘ऑपेरशन मर्यादा’ मुहिम के तहत लंबे समय से सार्वजनिक स्थानों पर शराब पीने व हुड़दंग करने वालों के खिलाफ सख्त कार्यवाही कर रही है बॉबी कटारिया के खिलाफ कानून की सुसंगत धाराओं के अंतर्गत मुकदमा दर्ज किया गया है। आवश्यक कार्यवाही की जाएगी”

विधायक उमेश कुमार ने उठाया था जोरशोर से मुद्दा

बॉबी कटारिया को लेकर इस मामले को जोरशोर से उठाने वाले खानपुर के विधायक उमेश कुमार है. वो भी लगातार इस मामले को लेकर गंभीर बने हुए हैं. अपने ट्वीट में राष्ट्रिय उड्डयन मंत्री ज्योतिय सिंधिया को टैग तथा गृह मंत्री अमित शाह को टैग करते हुए उमेश कुमार ने कहा की इस देश में एयरपोर्ट पर सुरक्षा का हाल ये है ये व्यक्ति सरेआम देश के क़ानून की धज्जियाँ उड़ा रहा है ।कितनी चूक है सुरक्षा में ये कारनामा

हरकत में आई पुलिस

विधायक उमेश कुमार द्वारा इस मामले को उठाने एवं डीजीपी अशोक कुमार के संज्ञान लेने के बाद पुलिस तुरंत हरकत में आई और में बॉबी कटारिया के उपर कार्यवाही करते हुए मुकदमा दर्ज कर लिया गया. दर्ज मुक़दमे में सड़क पर अतिक्रमण एवं खुले में शराब पीने जैसी धाराएँ लगी है. अपने सोशल मीडिया अकाउंट से in मुकदमों की जानकारी देते हुए उत्तराखंड पुलिस लिखती है की “सोशल मीडिया पर बॉबी कटारिया नामक युवक द्वारा सड़क पर अतिक्रमण कर खुले में शराब पीने संबंधी वायरल वीडियो का श्री Ashok Kumar IPS, DGP Sir द्वारा संज्ञान लेने के बाद #UttarakhandPolice ने बॉबी कटारिया के विरुद्ध 290/510/336/342 IPC व 67 IT Act के अंतर्गत मुकदमा पंजीकृत किया है।”

अगर बॉबी पर लगी इन धाराओं पर नज़र डाले तो

धारा 290 – लोक बाधा उत्पन्न करना, दो सौ आर्थिक दंड
धारा 510 – नशे की हालत में लोगो को परेशान करना, 10 रुपए दंड से लेकर 24 घंटे तक सादा कारावास
धारा 336 – ऐसा कार्य करना जिससे किसी के मानव जीवन अथवा व्यक्तिगत जीवन की सुरक्षा को खतरा हो, ढाई सौ रुपए अथवा 3 महीने तक कारावास
धारा 342 – किसी व्यक्ति द्वारा अन्य व्यक्ति को गलत तरीके से प्रतिबंधित करना, एक वर्ष तक का कारावास अथवा एक हज़ार जुर्माना
आईटी एक्ट 67 – सोशल मीडिया पर अश्लील सामग्री पब्लिश करना

हालाँकि जो जो धाराएँ बॉबी कटारिया पर लगी है वो साधारण धाराएँ ही कही जा सकती हैं, लेकिन कानून जानकारों का कहना है की किसी भी अपराध के पीछे मेंसरिया का होना देखा जाता है, जानकार कहतें हैं की “मेंसरिया एक क़ानूनी शब्द है जिसमे अपराधी की मंशा देखि जाती है की आखिर किस मंशा से उसने अपराध को अंजाम दिया. बॉबी के विडियो में देखा जा सकता है की उसकी मंशा खुद को बदमाश दिखाने की और लोगो को डराने धमकाने की है जिसे पीछे बज रहा गाना भी इसी उद्देश से लगाया गया है”

देखना यह होगा की इस मामले में उत्तराखंड पुलिस की तरह की कार्यवाही करती है. डीजीपी अशोक कुमार के दो मिशन काफी कामयाब हो चुकें है जिनमे कोरोना काल में लोगो की मदद के लिए चलाया गया मिशन हौसला तथा उत्तराखंड में बाहरी प्रदेशों के उपद्रवियों को लेकर चलाया जा रहा मिशन मर्यादा, जिसके तहत हुई कार्यवाहियों को हम पिछले साल से देखतें आ रहे हैं.

- Advertisement -
देहरादून - अंकिता भंडारी की हत्या को लेकर एसआईटी केस को सुलझाने की मशक्कत में लगी हुई है. जिसमे...

Latest News

More Articles Like This