Headline
पीएम मोदी के कार्यक्रम में किच्छा के युवक को किया गया नोमिनेट
सुप्रीम कोर्ट की फटकार : हरक सिंह रावत और किशन चंद को कॉर्बेट नेश्नल पार्क मामले में नोटिस
उत्तराखंड के ग्राफिक एरा यूनिवर्सिटी में CM धामी ने किया छठवें वैश्विक आपदा प्रबंधन सम्मेलन का शुभारम्भ
उत्तराखंड में निर्माणाधीन टनल धंसने से बड़ा हादसा, सुरंग में 30 से 35 लोगों के फंसे होने की आशंका, रेस्क्यू ऑपरेशन जारी
मशहूर टूरिस्ट स्पॉट पर हादसा, अचानक टूट गया कांच का ब्रिज, 30 फीट नीचे गिरकर पर्यटक की मौत
81000 सैलरी की बिना परीक्षा मिल रही है नौकरी! 12वीं पास तुरंत करें आवेदन
देश के सबसे शिक्षित राज्य में चपरासी की नौकरी के लिए कतार में लगे इंजीनियर, दे रहे साइकिल चलाने का टेस्ट
Uttarakhand: पहली बार घर-घर किया गया विशेष सर्वे, प्रदेश से दो लाख मतदाता गायब, नोटिस जारी
Uttarakhand: धामी सरकार का एलान, राज्य स्थापना दिवस तक हर व्यक्ति को मिलेगा आयुष्मान कवच

अलर्ट- उत्तराखंड में गैंगस्टर लॉरेंस बिश्नोई के गिरोह की मौजूदगी की जताई जा रही है आशंका, उत्तराखंड पुलिस सतर्क

गायक सिधु मूसेवाला की बेरहमी से की गई हत्या ने उनके सभी चाहने वालो को बहुत ही हैरान-परेशान कर दिया है। सिधु मूसेवाला के फैन्स अब तक भी इस बात पर यकीन नहीं कर पा रहे है कि मशहूर गायक सिधु मूसेवाला अब उनके बीच नहीं रहे है। उनके इस हत्याकाण्ड की ज़िम्मेदारी जिस गोल्डी बरार ने ली है, वह गैंगस्टर लॉरेंस बिश्नोई का करीबी बताया जा रहा है। फिलहाल लॉरेंस बिश्नोई अजमेर जेल में बंद है लेकिन उसके गिरोह के कई शार्प शूटरों के उत्तराखंड में सक्रिय होने की आशंका जताई जा रही है। जैसा कि लॉरेंस बिश्नोई पहले भी कई सुपरस्टार को मारने की धमकी दे चुके है और गोल्डी बरार द्वारा भी सिधु मूसेवाला की मौत के बाद कई और लोगो को मारने की धमकी दी जा चुकी है। ऐसे में पुलिस इस मामले में और भी सतर्क हो चुकी है।

पुलिस से जुड़े सूत्रों का कहना है कि बिश्नोई गिरोह का नेटवर्क पंजाब के साथ ही राजस्थान, हरियाणा, दिल्ली से होते हुए अब उत्तराखंड में भी तेजी से फैल रहा है। रुद्रपुर गल्ला मंडी के पास जनवरी 2021 में एक टायर व्यापारी के प्रतिष्ठान के बाहर हुई फायरिंग के मामले में भी बिश्नोई गिरोह का नाम सामने आ चुका है। फायरिंग के मामले में व्यापारी से बिश्नोई के नाम पर एक करोड़ की रंगदारी मांगने का मामला भी सामने आया था। इसके बाद हल्द्वानी में गिरफ्तार एक व्यक्ति का नाम भी बिश्नोई गिरोह से जुड़ने की चर्चा थी। और अब सिधु मूसेवाला के हत्याकांड के हत्यारे भी उत्तराखंड से ही गिरफ्तार किये गए थे जिसके बाद उत्तराखंड में भी बिश्नोई के और बाकी गिरोह की मौजूदगी के चलते उत्तराखंड पुलिस सतर्क हो गई है। डीआईजी नीलेश आनंद भरणे ने बताया कि पुलिस सभी गतिविधियों पर निगाह रखे हुए है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back To Top