अल्मोड़ा में दो भाजपा के नेताओं का निधन से शोक की लहर

Must Read

उत्तराखंड न्यूज़ एक्सप्रेस के इस समाचार को सुनें

भाजपा के ​वरिष्ठ नेता एवं पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष अधिवक्ता मोहन राम आर्या का निधन हो गया। 62 वर्षीय मोहन राम कुछ दिनों से अस्वस्थ चल रहे थे और अपना इलाज करा रहे थी । बीती गुरुवार रात उन्होंने अंतिम सांस ली।

मूल रूप से भैसोड़ी गांव (ताकुला ब्लाॅक) के रहने वाले भाजपा नेता अधिवक्ता मोहन राम साल 2008 से 2013 तक अल्मोड़ा जिला पंचायत के मुखिया रहे। वह भाजपा अनुसूचित मोर्चा के प्रदेश उपाध्यक्ष रहे। उन्होंने सोमेश्वर विधान सभा सीट से 2014 में भाजपा के टिकट पर मौजूदा विधायक व राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) रेखा आर्या के खिलाफ उपचुनाव भी लड़ा था। हालंकि वह हार गए थे। तब तत्कालीन विधायक अजय टम्टा के सांसद बनने पर यह सीट खाली हुई थी।

मोहन राम के जिलापंचायत अध्यक्षी कार्यकाल में उनके साथ जिला पंचायत सदस्य रहीं विमला रावत, लीला बिष्ट, मंजू बिष्ट, हेमा नेगी, गंगा शर्मा, किशन सिंह, राजेंद्र बाराकोटी, पूरन रजवार, मान सिंह, कुंदन लटवाल, भूपेंद्र सिंह,चंदन राम टम्टा, बुधानी आदि ने उनके निधन पर गहरी शोक संवेदना व्यक्त की है। शुक्रवार को विश्वनाथ तीर्थ में मोहन राम की अंत्येष्टि की गई। इधर सांसद अजय टम्टा, राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) रेखा आर्या, जिपं सदस्य धन सिंह रावत आदि ने इसे पार्टी के लिए अपूर्णीय क्षति बताया है।

वहीँ दूसरी तरह नगर के पूर्व अल्पसंख्यक मोर्चे के नगर अध्यक्ष फहीम अहमद का असामयिक निधन हो गया. जिससे भाजपा कार्यकर्ताओं में शोक की लहर दौड़ गयी. दोनों नेताओं के निधन पर शोक संवेदनाओं देने वालो का तांता लगा रहा. फहीम अहमद पार्टी के सक्रीय एवम निष्ठावान कार्यकर्त्ता रहे. दोनों नेताओं के असामयिक निधन से शहर के लोगो को अघात लगा है.

 

Latest News

कोरोना को लेकर सरकार सख्त: बिना मास्क पकड़े जाने पर 1000 रुपए तक जुर्माना

देहरादून राजधानी की सड़कों व बाजारों में बिना मास्क के घूमने वालों को यह खबर सावधान करने वाली है।...

More Articles Like This