Headline
पीएम मोदी के कार्यक्रम में किच्छा के युवक को किया गया नोमिनेट
सुप्रीम कोर्ट की फटकार : हरक सिंह रावत और किशन चंद को कॉर्बेट नेश्नल पार्क मामले में नोटिस
उत्तराखंड के ग्राफिक एरा यूनिवर्सिटी में CM धामी ने किया छठवें वैश्विक आपदा प्रबंधन सम्मेलन का शुभारम्भ
उत्तराखंड में निर्माणाधीन टनल धंसने से बड़ा हादसा, सुरंग में 30 से 35 लोगों के फंसे होने की आशंका, रेस्क्यू ऑपरेशन जारी
मशहूर टूरिस्ट स्पॉट पर हादसा, अचानक टूट गया कांच का ब्रिज, 30 फीट नीचे गिरकर पर्यटक की मौत
81000 सैलरी की बिना परीक्षा मिल रही है नौकरी! 12वीं पास तुरंत करें आवेदन
देश के सबसे शिक्षित राज्य में चपरासी की नौकरी के लिए कतार में लगे इंजीनियर, दे रहे साइकिल चलाने का टेस्ट
Uttarakhand: पहली बार घर-घर किया गया विशेष सर्वे, प्रदेश से दो लाख मतदाता गायब, नोटिस जारी
Uttarakhand: धामी सरकार का एलान, राज्य स्थापना दिवस तक हर व्यक्ति को मिलेगा आयुष्मान कवच

कांवड़ियों ने सेना के जवान को पीट पीटकर मार डाला

हरिद्वार (Haridwar) से कांवड़ लेकर जा रहे मुफ्फरनगर के सेना के जवान कार्तिक बालियान की डाक कांवड़ निकालने के विवाद में पीट-पीट कर हत्या कर दी गई. घटना 26 जुलाई की है, जब रुड़की जिले के मंगलौर में कावड़ निकालने के विवाद को लेकर कांवड़ियों के दो गुट आपस में भिड़ गए. विवाद में शामिल कावड़ियों का एक दल हरियाणा के पानीपत से तो दूसरा दल उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर से है. हरियाणा के कांवड़ियों पर आरोप है लाठी-डंडों से पीट-पीटकर कार्तिक की हत्या कर दी. इस पूरी घटना में उत्तराखंड पुलिस ने हत्या का मुकदमा दर्ज करते हुए 6 लोगों की गिरफ्तारी की है.

कांवड़ियों के बीच विवाद में एक कांवड़िए की हत्या कर दी गई। मृतक युवक सेना की जाट रेजीमेंट में तैनात था और छुट्टी पर अपने साथियों के साथ कांवड़ लेने हरिद्वार आया हुआ था। जवान की हत्या में हरियाणा से आए हुए कांवड़ियों का हाथ बताया जा रहा है।

ऐसा बताया जा रहा है कि रास्ते में आते वक्त मृतक जवान की हरियाणा के कुछ कांवड़ियों से झड़प हो गई थी और उन्होंने लाठी डंडों से मार मार कर जवान कि हत्या कर दी। हादसे के बाद मृतक जवान के घर में कोहराम मचा हुआ है और उसके परिजनों का रो-रो कर बुरा हाल हो रखा है।

मिली गई जानकारी के मुताबिक मुजफ्फरनगर के सिसौली गांव का निवासी 25 वर्षीय कार्तिक जाट रेजिमेंट में गुजरात में तैनात था और वह सावन में छुट्टी लेकर घर आया हुआ था। वह अपने मित्र ओमेंद्र और अन्य ग्रुप के साथ में बाइक पर कांवड़ लेने हरिद्वार आया था। मंगलवार को दोनों मित्र अपने गुट के साथ वापस गंगाजल लेकर लौट रहे थे कि तभी हाईवे पर हरियाणा के कुछ कांवड़ियों ने उनकी बाइक के सामने अपनी बाइक को फंसा दिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back To Top