डूबने से पहले बोला ‘नहाने का मज़ा तब ही है जब बॉडी फूलकर उपर आ जाये’, 68 घंटे बाद मिली लाश

Must Read

उत्तराखंड न्यूज़ एक्सप्रेस के इस समाचार को सुनें

नैनीताल – कहतें है की हमे जब भी बोलना चाहिए शुभ बोलना चाहिए, पता नही किस समय कही गयी बात सच साबित हो जाए और हम जिंदगीभर अपनी कही गयी बात का अफ़सोस करते रहे. ऐसा ही मामला हल्द्वानी के हल्दूचौड़ के रहने वे रोहित के साथ भी हुई.

कोसी में नहाने में रोहित के साथ भी ऐसा ही हुआ, जब वो नहा रहा था तब उसके भाइयों ने वापस आने को बोला तो रोहित ने 10 मिनट और नहाने की बात कहता रहा अचानक से वो बोला की नहाने का असली मज़ा तब है जब बॉडी फूलकर उपर आ जाये. उसकी यह बात सुनकर उसके भाइयों को बहुत गुस्सा आया और उसे नदी से बाहर आने की बात कहने लगे, लेकिन रोहित आगे चला गये और वहां एक भवंर में फंस गया.68 घंटे बाद रोहित की डेड बॉडी एसडीआरएफ की टीम को मिली.

25 वर्षीय रोहित कुमार पुत्र प्रकाश चंद हल्द्वानी के हल्दूचौड़ में रहता था। शनिवार को वो अपने भाई और साथियों के साथ नावली क्षेत्र में कोसी नदी में नहाने गया था। नदी में उतरने के बाद रोहित भंवर में फंसकर सबकी नजरों से ओझल हो गया। सूचना पर पहुंची एसडीआरएफ की दो टीमों ने एनडीआरएफ के साथ सर्च अभियान चलाया, लेकिन रोहित का कुछ पता नहीं चला। मंगलवार सुबह एसडीआरएफ ने एक बार फिर कोसी नदी में रोहित को खोजा। तभी चमड़िया के पास कोसी नदी के बीचों-बीच रोहित का शव फंसा मिला। शव को बाहर निकालने के लिए टीम को भी कड़ी मशक्कत करनी बड़ी। हादसे के चौथे दिन रोहित का शव बरामद कर लिया गया है। इन दिनों पहाड़ में नदियां उफनाई हुई हैं। ऐसे में जितना संभव हो नदियों-तालाबों और गदेरों से दूर रहें।

 

Latest News

कोरोना के नए वेरिएंट को लेकर प्रदेश सरकार ने जारी की कोविड प्रतिबंधों की लिस्ट

कोरोना के नए वेरिएंट ओमिक्रॉन को लेकर सरकार की ओर से नई एसओपी जारी की गई है। सरकार ने...

More Articles Like This